तेज रफ़्तार जीवन शैली, लक्ष्यों को प्राप्त करने, नई ऊंचाइयों को छूने के लिए अच्छी है, लेकिन मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य बनाए रखना एक चुनौती है। हालाँकि, कोरोनावायरस के अनिश्चितता के कारण पिछले वर्ष को छोड़कर, जीवन चक्र शांत, सरल था।  

तेज जीवन शैली हानिकारक होती है, जो मुख्य रूप से पाचन क्रिया को प्रभावित करती है। 

ज्यादातर लोग सामान्य स्वास्थ्य विकारों यानी – एसिडिटी और सीने में जलन से पीड़ित होते है। यह विकार अनियमित खाने की आदतों, फास्ट फूड, अधिक खाने और आंतरिक पाचन अंगों को नुकसान के प्रभाव है।

आइए समझते हैं कि एसिडिटी और सीने में जलन के विकार क्या होते है। अधिक भोजन, अधिक वजन और अम्लीय खाद्य पदार्थों के सेवन से एसिडिटी होती है।  

सीने में जलन तब होती है जब निचले एसोफैगस (घेघा या ग्रासनली) की मांसपेशियां ठीक से काम करने में विफल हो जाती हैं, परिणामस्वरूप पेट से भोजन और एसिड वापस बह जाते हैं या अन्नप्रणाली में वापस आ जाते हैं।

दोनों स्थितियों को गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज (जीईआरडी/गर्ड/GERD) के तहत वर्गीकृत किया गया है। GERD का परिणाम, सामान्य जीवन मे कठिनाइयां, लेकिन जीवन शैली में कुछ बदलाव, लक्षणों को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। निम्नलिखित सुझाव सहायता करेंगे। 

अतिभक्षण से बचें: तीन बार अधिक परिमाण में भोजन करने के बजाय, चार से पांच छोटे आहार खाने पर विचार करें। छोटे-छोटे निवाले खाएं, अन्न को धीरे-धीरे चबाएं, क्योंकि यह पाचन में सुधार करता है और सीने में जलन को रोकने में मदद करता है। इसके अतिरिक्त, अधिक वजन या मोटापा अम्लता के जोखिम की गंभीरता को बढ़ाता है। वजन कम करने से पेट पर दबाव कम होता है, जिससे अन्न वापस अन्नप्रणाली में जाने की संभावना कम हो जाती है।

अम्लीय खाद्य पदार्थ कम करें: अपने दैनिक सेवन में अम्लीय खाद्य पदार्थ जैसे – टमाटर, प्याज और अन्य खट्टे खाद्य पदार्थों का ग्रहण कम करने का प्रयास करें। ये खाद्य पदार्थ जितने कम होंगे, पाचन प्रक्रिया उतनी ही बेहतर होगी और एसिडिटी या सीने में जलन की संभावना कम होगी।

खूब पानी पिएं: पानी शरीर में ऑक्सीजन (Oxygen) के स्तर को कायम रखने में मदद करता है और सीने में जलन (heartburn) से लड़ने में मदद करता है। जितना हो सके उतना पानी पिएं और ज्यादा पीने से बचें, क्योंकि अधिक पानी पीने से पेट फुला हुआ लगने की अनुभूति दे सकता है। 

उपरोक्त सुझाव जीईआरडी (GERD) का मुकाबला करने में मदद करेंगी। साथ ही, प्राकृतिक, आयुर्वेद पर आधारित जीवदया अन्ताज GERD का इलाज करने में मदद करता है। ऑनलाइन खरीदें! https://amzn.to/3zmNcK5 पर जाएँ।

Add Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe <span> weekly newsletter </span>

Subscribe weekly newsletter